ग्राफिक गल्प ::
अंचित

anchit poet
अंचित

 

पाब्लो के किस्से

long live the revolution

*

never settle

*

o mere adarshvadi man

*

dil hai ki manta nahin

*

tum hi ho

जारी… 

***

अंचित हिंदी कवि-गद्यकार और अनुवादक हैं. अंग्रेजी में भी लिखते हैं. पटना में रहते हैं. उनसे [email protected] पर बात की जा सकती है.

प्रतिक्रिया दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *